विकास पर्व के पहले दिन जिलों में लगभग 8 हजार 531 करोड़ के भूमि-पूजन एवं लोकार्पण

 

विकास पर्व के पहले दिन जिलों में लगभग 8 हजार 531 करोड़ के भूमि-पूजन एवं लोकार्पण

14 अगस्त तक प्रदेश में मनेगा विकास पर्व
2 लाख से अधिक कार्यों का लोकार्पण/भूमि-पूजन संभावित
मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रदेश का दौरा कर विभिन्न स्थान पर करेंगे रात्रि विश्राम
विकास पर्व के दौरान जन-सेवा यात्रा, जन-संवाद, हितग्राही सम्मेलन भी होंगे

भोपाल : विकास पर्व के पहले दिन पूरे प्रदेश में बड़ी संख्या में विकास कार्यों का भूमि-पूजन/लोकार्पण किया गया। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने धार एवं बड़वानी जिले में विकास पर्व की शुरूआत की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने धार जिले में 2771 करोड़ 16 लाख की लागत के विकास कार्यों का भूमि-पूजन किया और बड़वानी जिले में 1 हजार 328 करोड़ 75 लाख की लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण किया। विकास पर्व के दौरान जिला बड़वानी, धार, पन्ना, रतलाम, ग्वालियर, गुना और बालाघाट में लगभग 8 हजार 531 करोड़ रूपये भूमि-पूजन एवं लोकार्पण किये गये। पूरे प्रदेश में 16 जुलाई से 14 अगस्त तक विकास पर्व मनाया जाएगा। इस दौरान प्रदेश में लगभग 2 लाख करोड़ से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण/भूमि-पूजन संभावित है। साथ ही जन-सेवा यात्राएँ, जन-संवाद, हितग्राही सम्मेलन होंगे। विकास पर्व के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रदेश भर का दौरा कर विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे और कई स्थानों पर रात्रि विश्राम भी करेंगे। मुख्यमंत्री रोड शो भी करेंगे।
विभिन्न योजना के हितग्राही सम्मेलन
विकास पर्व के दौरान विभिन्न योजनाओं में प्रधानमंत्री आवास, मुख्यमंत्री भू-अधिकार, दीनदयाल रसोई, मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन, जल-जीवन मिशन, स्वामित्व योजना, संबल, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना, मुख्यमंत्री कृषक ब्याज माफी आदि योजनाओं और महिला सशक्तिकरण, युवा कल्याण, स्व-रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य, सुशासन संबंधी योजनाओं के हितग्राहियों के सम्मेलन होंगे।
विकास पर्व अवधि में सभी जिलों में मंत्री, सांसद, विधायक तथा स्थानीय जन-प्रतिनिधियों की उपस्थिति में जिला, तहसील और ब्लॉक स्तर आदि पर विभिन्न कार्यक्रम होंगे। सीएम हेल्पलाइन पर विकास पर्व के लिये तैयार किये गये पोर्टल पर सभी कार्यक्रमों की तिथिवार जानकारी अपलोड होगी। होने वाले सभी भूमि-पूजन/लोकार्पण का पूरा विवरण पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा।
पहले दिन के लोकार्पण/भूमि-पूजन

जिला बड़वानी

1 हजार 328 करोड़ 75 लाख की लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण।नागलवाड़ी उद्वहन सिंचाई परियोजना का लोकार्पण।

नागलवाड़ी माईक्रो उद्वहन सिंचाई। परियोजना की लागत 1 हजार 173 करोड़ से अधिक।

पाटी सूक्ष्म उद्वहन सिंचाई परियोजना की लागत राशि रू. 155 करोड़ 72 लाख रुपए है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में 1 लाख 33 हजार से अधिक किसान परिवारों को हितलाभ|

मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना में 1 लाख 20 हजार से अधिक किसान परिवारों को हितलाभ।

मुख्यमंत्री कृषक ऋण ब्याज माफी योजना में 10 हजार 902 हजार किसानों के 20 करोड़ 49 लाख रूपए से अधिक की ब्याज माफी|

14 हजार 316 किसानों को फसल बीमा के 4 करोड़ 17 लाख रु. के दावों का भुगतान।

86 हजार 50 किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर 510 करोड़ रु. से अधिक का ऋण ।

1 लाख 27 हजार किसानों, 8 हजार 162 पशुपालकों और 1 हजार 812 मछली पालकों के बने किसान क्रेडिट कार्ड |

12 लाख 45 हजार से अधिक हितग्राहियों को मिल रहा निःशुल्क खाद्यान्न।

मुख्यमंत्री राशन आपके ग्राम योजना में 246 जनजातीय बहुल ग्रामों तक पहुँच रहा राशन।

मुख्यमंत्री आवासीय भू-अधिकार योजना में 467 परिवारों को पट्टे वितरित।

मुख्यमंत्री नगरीय भू-अधिकार योजना में 744 भू-खंड पट्टे वितरित।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत 14 हजार 200 से अधिक आवास निर्मित।

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत 87 हजार 500 से अधिक आवास निर्मित।

विभिन्न स्व-रोजगार योजनाओं में 46 हजार 603 हितग्राहियों को स्व-रोजगार सहायता।

पीएम स्वनिधि योजना में तीनों चरण मिलाकर 6 हजार से अधिक प्रकरणों में लगभग 8 करोड़ रु. का ब्याज मुक्त ऋण।

मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना में 5 हजार 900से अधिक प्रकरणों में 5 करोड़ 92 लाख रु का ब्याज मुक्त ऋण।

दीनदयाल अन्त्योदय केन्द्र से प्रतिदिन 200 गरीबों और जरुरत मंदों को मात्र 5 रु में भरपेट भोजन।

जिला धार

धार जिले में 1 हजार 268 करोड़ से अधिक की लागत से लगभग 3 हजार 300 किमी लम्बाई की कुल 835 सड़कों का निर्माण एवं उन्नयन।

जिले में 196 करोड़ 62 लाख रु. की लागत से 117 पुलों का निर्माण।

विद्युत अधोसंरचना के निर्माण एवं सुदृढ़ीकरण पर 333 करोड़ रुपए का व्यय।

216 करोड़ रुपए की लागत से 54 मेगावाट के सोलर पावर प्लांट स्थापित किए जा रहे।

फीडर विभक्तीकरण के 85 करोड़ की लागत के 311 कार्य पूर्ण।

519 करोड़ 26 लाख रुपए की लागत से निर्मित 78 सिंचाई परियोजनाओं से 29 हजार 790 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई क्षमता विकसित।

वर्तमान में 905 करोड़ 33 लाख रुपए की लागत से 22 सिंचाई परियोजनाएँ निर्माणाधीन।

अब तक 2 लाख 63 हजार 783 परिवारों तक नल का शुद्ध जल पहुँचाया।

जिले में 15 सीएम राइज विद्यालय प्रारम्भ।

लगभग 237 करोड़ रुपए की लागत से एकलव्य विद्यालय, कन्या शिक्षा परिसर,आश्रम, क्रीड़ा परिसर एवं छात्रावासों का निर्माण।

मेडिकल कॉलेज बनेगा और 71 करोड़ रुपए की लागत से कुल 529 स्वास्थ्य केन्द्रों का निर्माण एवं उन्नयन।

11 लाख 40 हजार हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड।

जिला पन्ना

ग्राम मझगांय में 29 करोड़ रूपए की लागत से केन नदी के बिलहरी घाट पर बनने वाले पुल का भूमि-पूजन।

मझगांय बांध के निर्माण में 400 एकड़ भूमि संबंधी परिवारों को मुआवजा वितरण के लिए 1200 करोड़ रूपए की राशि स्वीकृत।

झिन्ना सरकार के दर्शन के लिए 12 करोड़ रूपए सड़क निर्माण के लिए स्वीकृत।

अजयगढ़ में अजयपाल भगवान के दर्शन के लिए सड़क और नाली निर्माण के लिए 6 करोड़ रूपए की राशि स्वीकृत।

जैतूपुर में 220 केव्हीए का सब स्टेशन बनने से अब अजयगढ़ से पन्ना तक बिजली सप्लाई की जाएगी।

जिला रतलाम

16.45 लाख रूपए के लोकार्पण संपन्न, इनमें पुलिया निर्माण, पेयजल टंकी तथा सीसी रोड निर्माण।

ग्राम पंचायत कांगसी के कांगसी एवं कुंवरपाड़ा तथा ग्राम पंचायत ठीकरिया के ग्राम बदलापुरखुर्द तथा बखतपुराखुर्द में भूमि-पूजन/लोकार्पण।

14.67 लाख रुपए लागत की दो पुलिया निर्माण तथा एक सार्वजनिक कूप निर्माण का भूमि-पूजन।

जिला ग्वालियर

कुक्षी माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना के 2771 करोड़ 16 लाख के विकास कार्यों के भूमि-पूजन।

ग्रामबंजारोंकापुरा (उटीला) मेंलगभगएककरोड़ 10 लाखकीलागतसेबननेजारहीडामरीकृतसड़ककाभूमि-पूजन

वार्ड-63 केअंतर्गतमऊमें 63 लाख 60 हजारकीलागतसेमूर्तरूपलेनेजारहीसीमेंट-कंक्रीटयुक्तसड़क का भूमि-पूजन।

जिला गुना

ग्राम पंचायत बरखेड़ाहाट एवं खजूरी विकासखंड आरोन में नल-जल योजना लागत 1.35 करोड़ रूपये।

खजूरी 7.96 लाख रूपये का लोकार्पण।

जिला बालाघाट
60 लाख रूपये के विकास कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

Madhya Pradesh : मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उद्योगपतियों और निवेशकों से की वन-टू-वन चर्चा

  मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने उद्योगपतियों और निवेशकों से की वन-टू-वन चर्चा मुख्यमंत्री ने सिटी इलेक्ट्रिक ट्रक और इलेक्ट्रिक स्टॉफ बस को झंडी दिखाकर किया रवाना Indore: मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने शुक्रवार को रीजनल इंडस्ट्री कॉन्‍क्लेव के पहले दिन के दूसरे सत्र में उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन चर्चा की। उद्योग समूहों ने प्रदेश […]