इंदौर में कांग्रेस प्रत्याशी नाम वापस लेकर भाजपा में शामिल

 

इंदौर में कांग्रेस प्रत्याशी नाम वापस लेकर भाजपा में शामिल

अब इंदौर लोकसभा सीट पर भाजपा के शंकर लालवानी समेत 14 उम्मीदवार मैदान में हैं

इंदौर – इंदौर लोकसभा सीट से बतौर कांग्रेस प्रत्याशी नामांकन दाखिल करने वाले अक्षय कांति बम ने सोमवार को पर्चा वापस ले लिया। मंत्री कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा विधायक रमेश मेंदोला के साथ अक्षय कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। नामांकन वापस लेने के बाद उन्होंने भाजपा भी जॉइन कर ली। बम की नाम वापसी होते ही भाजपा ने ऑपरेशन सूरत-2 पर काम शुरू कर दिया। प्लान था कि गुजरात की सूरत लोकसभा सीट की तरह बचे हुए उम्मीदवारों के नामांकन वापस कराकर इंदौर में निर्विरोध जीत हासिल की जाए। मंत्री कैलाश विजयवर्गीय के नेतृत्व में दोपहर 3 बजे तक माथापच्ची चलती रही लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। 23 में से 9 ही उम्मीदवारों ने नाम वापस लिए। अब इंदौर लोकसभा सीट पर भाजपा के शंकर लालवानी समेत 14 उम्मीदवार मैदान में हैं।
अचानक इंदौर पहुंचे सीएम डॉ. यादव
सीएम डॉ. मोहन यादव सोमवार रात अचानक इंदौर पहुंचे। यहां आने के लिए उन्होंने अपने तय कार्यक्रम निरस्त कर दिए। जिस समय अक्षय कांति बम ने भाजपा जॉइन की तब सीएम झारखंड में चुनाव प्रचार कर रहे थे। यहां से वे भोपाल जाने वाले थे, लेकिन अपना शेड्यूल बदलकर वे झारखंड से सीधे इंदौर पहुंचे। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव इंदौर तो आए, लेकिन आचार संहिता के चलते ज्यादा बोल न सके और उन्होंने भाषण भी नहीं दिया। वे रात करीब 10 के बाद भाजपा कार्यालय पहुंचे और अक्षय कांति बम को गले लगाया। वहीं पार्षद शिवम यादव और विनीता मौर्य का स्वागत भी किया।
नाम वापसी पर भड़के निर्दलीय उम्मीदवार, कहा- हमने नाम वापस नहीं लिया
निर्दलीय उम्मीदवार व पूर्व सैनिक धर्मेंद्र सिंह झाला और दिलीप ठक्कर ने कहा, ‘हम दोनों के फर्जी साइन करके नाम वापसी करा ली गई है। हमने वीडियोग्राफी दिखाने की मांग की है।’ एक और निर्दलीय प्रत्याशी लीलाधर चौहान ने कहा, ‘मैंने फॉर्म उठाया ही नहीं। यह जानकारी आपको किसने दी? मैं तो गया ही नहीं, ये कैसे हो गया?’ ठक्कर और झाला ने कलेक्टर कार्यालय में धरना भी दिया।
पटवारी बोले- अक्षय को धमकाया, यातना दी
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने देर शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘इंदौर में लोकतंत्र का चीर हरण हुआ है। भाजपा खास तौर पर नरेंद्र मोदी के राज में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। इससे पहले बूथ कैप्चरिंग जैसी घटनाएं होती थीं लेकिन अब तो प्रत्याशियों का कैप्चरिंग, उनका हरण हो रहा है। इंदौर शहर के हित में जो निर्णय होगा, कल शाम तक आपको बताएंगे। कांग्रेस लोकतंत्र को और जनता को जिंदा रखने के लिए अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करेगी।’
इससे पहले उन्होंने सोमवार सुबह ग्वालियर में कहा, ‘अक्षय कांति बम पर तीन दिन पहले एक पुराने मामले में 307 की धारा बढ़वाई गई। डराया गया। धमकाया गया। रातभर यातना दी गई। आज उसको साथ ले जाकर फॉर्म वापस निकलवा लिया गया। इंदौरवासियों, ये मैसेज है कि आपको वोट के अधिकार का इस्तेमाल नहीं करना है। मैं प्रार्थना करता हूं कि आपको अगर लोकतंत्र में विश्वास है तो इस तानाशाही के खिलाफ खड़ा होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

खुद को युवाओं के प्रतीक कहने वाले नेता छात्रों के साथ कर रहे अन्याय : दिग्विजय सिंह

  भोपाल। भोपाल में गुरुवार को कांग्रेस नेताओं ने नर्सिंग घोटाले को लेकर भाजपा को घेरा। संवाददाताओं से बात करते हुए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमारे नेताओं ने विधानसभा में नर्सिंग घोटाले के मुद्दे को प्रभावशाली तरीके से उठाया और सरकार कोई जवाब नहीं दे पाई। उन्होंने कहा कि […]

उत्तर प्रदेश के गोंडा में हुए रेल हादसे पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने जताया दुख

  नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के गोंडा में हुए रेल हादसे पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने दुख जताया है। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राहत और बचाव कार्य में सहयोग की अपील की। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “उत्तर प्रदेश के गोंडा में चंडीगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस के डिरेल होने […]