“लड़कियों के मोटापे पर उन्हें शर्मिंदा नहीं करना चाहिए; हर बॉडी टाइप खूबसूरत होता है” : अक्षिता मुद्गल

 

मुम्बई : सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन का नए जमाने का रोमांटिक शो ‘इश्क पर ज़ोर नहीं’ अपने दिलचस्प ड्रामा और अप्रत्याशित मोड़ के साथ दर्शकों का खूब मनोरंजन कर रहा है। इस शो में अहान और इश्की की परवान चढ़ती प्रेम कहानी दिखाई जा रही है, जिसमें महत्वपूर्ण सामाजिक मुद्दों को भी उजागर किया गया है। इसमें महिलाओं को उनकी पसंद से चुनाव करने के अधिकार देने, अपनी मर्जी से करियर चुनने की आजादी और अपनी राय जाहिर करने के अधिकारों का महत्व बताया गया है। इस शो में अक्षिता मुद्गल, इश्की का रोल निभा रही हैं, जो एक साधारण परिवार से है और कड़ी मेहनत में यकीन रखती है। वो आजाद ख्यालों और जिंदादिल स्वभाव की लड़की है। इश्की दुनिया में प्यार को सबसे ऊपर मानती है। इस शो की वर्तमान कहानी में इश्की को उसके वजन के कारण घर के बड़े बुजुर्गों की खरी-खोटी सुननी पड़ती है। ऐसे में अहान उसके पक्ष में खड़ा होता है। एक्ट्रेस अक्षिता मुद्गल मानती हैं कि लड़कियों के मोटापे के कारण उन्हें शर्मिंदा नहीं करना चाहिए। उनका कहना है कि हर बॉडी टाइप खूबसूरत होता है। इस बारे में बताते हुए अक्षिता मुद्गल कहती हैं, “किसी दूसरे इंसान पर टिप्पणी करना बहुत ही आम और ओछी हरकत है। लेकिन मुझे लगता है कि आपको ऐसी जगह नहीं रहना चाहिए, जहां दूसरे लोग आपके शरीर को लेकर आपको खराब महसूस कराएं। खास तौर पर तब, जब लोग अपने हुलिए को लेकर ज्यादा सजग रहते हैं। बॉडी शेमिंग के नतीजे गंभीर होते हैं और इससे मानसिक स्वास्थ्य की समस्याएं भी पैदा हो सकती हैं। तो आइए खुद से और आसपास सभी लोगों से अच्छाव्यवहार करें।”
‘इश्क पर ज़ोर नहीं’, सोमवार से शुक्रवार रात 9:30 बजे, सिर्फ सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन पर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

शादी के बाद ‘त्रिदेव’ सोनम खान ने बना ली थी फिल्मों से दूरी, अब हो रहा पछतावा

  Mumbai: त्रिदेव, विजय और अजूबा जैसी फिल्म में नजर आ चुकी 80-90 दशक की मशहूर एक्ट्रेस सोनम खान अब फिल्मी दुनिया से दूर हैं। एक्ट्रेस ने 1991 में राजीव राय के साथ शादी करने के बाद ही बॉलीवुड को अलविदा कह दिया था। हालांकि, उन्हें अपने इस फैसले पर अब मलाल है और हाल […]

Kalki 2898 AD : कल्कि 2898 एडी. में कृष्ण का चेहरा छिपाए रखने पर नाग अश्विन: “हमेशा से ही उन्हें एक छाया और निराकार रखने का विचार था

  कल्कि 2898 एडी. में कृष्ण का चेहरा छिपाए रखने पर नाग अश्विन: “हमेशा से ही उन्हें एक छाया और निराकार रखने का विचार था Mumbai: साल की सबसे बड़ी फिल्म कल्कि 2898 एडी ने न केवल उम्मीदों को पूरा किया है, बल्कि उन्हें पार करते हुए वैश्विक ब्लॉकबस्टर बन गई है। हाल ही में […]