MP: जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट, इंदौर ने सफलतापूर्वक आयोजित किया अपना 12वां दीक्षांत समारोह

 

जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट, इंदौर ने सफलतापूर्वक आयोजित किया अपना 12वां दीक्षांत समारोह

इंदौर – देश के प्रमुख मैनेजमेन्ट संस्थानों में से एक जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट, इंदौर ने 22 जून 2024 को संस्थान के परिसर में अपने 12वें दीक्षांत समारोह का सफल आयोजन किया। इस अवसर पर मिस नीतू काशीरामका, एमडी, वीआईपी इंडस्ट्रीज़, मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहीं। कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्जवलन एवं देवी सरस्वती की प्रार्थना के साथ हुई। जिसके बाद श्री शरद जयपुरिया, चेयरमैन, बोर्ड ऑफ गवर्नर्स, जयपुरिया ग्रुप ने स्वागत सम्बोधन दिया।
आज हम यहां आपकी दो सालों की उत्कृष्टता की यात्रा का जश्न मनाने के लिए इकट्ठा हुए हैं, इस अवसर पर मैं गर्व महसूस कर रहा हूं। आपका समर्पण, दृढ़ता और ज्ञान पाने का प्रयास ही आपको इस मुक़ाम पर लेकर आया है। मैं आप सभी को बधाई देना चाहूंगा।’ श्री जयपुरिया ने ग्रेजुएट छात्रों के बैच को सम्बोधित करते हुए कहा। आप औपचारिक लर्निंग के पथ पर अग्रसर हैं और आपमें से ज़्यादातर छात्र अपने कॉर्पोरेट करियर की शुरूआत करने जा रहे हैं। यहां कोई पाठ्यक्रम, परीक्षा या ग्रेड्स नहीं होंगे। हर दिन आपको एक नई चुनौती का सामना करना होगा। ऐसे में यह ज़रूरी है कि आप अपने लक्ष्य पर फोकस बनाए रखें, धैर्य रखें और दृढ़ता के साथ विपरीत परिस्थितियों का सामना करें।’ श्री जयपुरिया ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा। इस अवसर पर डॉ दीपांकर चक्रवर्ती, डायरेक्टर, जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेन्ट, इंदौर ने एकेडमिक वर्ष 2023-24 के लिए व्यापक सालाना रिपोर्ट भी प्रस्तुत की। ‘आज का दिन बेहद खास है। 171 छात्रों को पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैनेजमेन्ट में उनकी प्रतिबद्धता, अथक प्रयासों और दृढ़ समर्पण के लिए सम्मानित किया जाएगा, जो उनके लिए जीवन की बड़ी उपलब्धि है। ग्रेजुएट बैच के प्रिय छात्रों, मुझे उम्मीद है कि पीजीडीएम प्रोग्राम से मिले सबक आपके करियर और जीवन दोनों के लिए फायदेमंद साबित होंगे।’ डॉ चक्रवर्ती ने कहा।
‘हमारी यात्रा के दौरान हमने कई उपलब्धियां हासिल की हैं जैसे हाल ही में राज्य सरकार और मानव संसाधन विकास इनोवेशन परिषद एवं स्टार्टअप इंडिया टीम द्वारा मान्यता प्राप्त करना। ये सम्मान हमारी टीम के समर्पण और कड़ी मेहनत तथा हमारे द्वारा उद्यमिता प्रणाली पर उत्पन्न किए जा रहे सकारात्मक प्रभावों की पुष्टि करते हैं।’ डॉ चक्रवर्ती ने कहा।
रिपोर्ट में पिछले एकेडमिक वर्ष के महत्वपूर्ण पहलुओं जैसे इस दौरान हासिल किए गए नए बेंचमार्कों, रार्ष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय मान्यताओं, एकेडमिक्स में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए शुरू की गई नई प्रथाओं, ओद्यौगिक इंटरफेस, छात्रों के विकास एवं अनुसंधान तथा संस्थान की बुनियादी सुविधाओं की मौजूदा क्षमता के संवर्धन पर रोशनी डाली गई। कार्यक्रम के दौरान 171 छात्रों को डिप्लोमा दिया गया और मेधावी छात्रों को चेयरमैन गोल्ड, वाईस चेयरमैन्स सिल्वर एवं डायरेक्टर्स ब्रॉन्ज़ मैडल से सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर जयपुरिया इंदौर के एल्युमनस को ‘डिस्टिंग्विश्ड एल्युमनाई अवॉर्ड 2023-24’ से सम्मानित किया गया। यह पुरस्कार पीजीडीएम बैच 2012-14 के एल्युमनस श्री पीयूष शर्मा को मिला, जिन्होंने निरंतर प्रगति की है और अपनी संस्था के विकास और सकारात्मक एवं भावी दृष्टिकोण में पूर्ण सहयोग प्रदान किया है।
वीआईपी इंडस्ट्रीज लिमिटेड की एमडी, नीतू काशीरामका ने लचीलापन, आत्म-विश्वास और कभी न खत्म होने वाली सीख पर प्रकाश डाला, जो सफल यात्रा की विशेषताएं हैं। अपना मार्ग स्वयं बनाएं, बाधाओं को अवसर के रूप में स्वीकार करें और नपे-तुले जोखिम उठाएं। बड़े सपने देखें क्योंकि केवल वही लोग अपने लक्ष्य हासिल कर सकते हैं जो सपने देखने की हिम्मत रखते हैं। महत्वपूर्ण प्रभाव वाले समृद्ध भविष्य के लिए हार्दिक शुभकामनाएं।”
“मुझे जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के 12वें दीक्षांत समारोह में भाग लेने में बहुत खुशी हो रही है, जो 171 योग्य स्नातकों को सम्मानित करता है। आपके परिश्रम, प्रतिबद्धता और धैर्य के लिए सभी स्नातकों को धन्यवाद। जैसा कि नेल्सन मंडेला ने एक बार कहा था, “शिक्षा सबसे शक्तिशाली हथियार है जिसका उपयोग आप दुनिया को बदलने के लिए कर सकते हैं।” जब आप व्यवसाय की दुनिया में प्रवेश करते हैं तो सहानुभूति और इरादे से निर्देशित होकर इसका अच्छा उपयोग करें”, श्रीमती काशीरामका ने कहा
‘आप इस चारदीवारी के बाहर दुनिया में कदम रखने जा रहे हैं, यहां आपको हर दिन अप्रत्याशित चुनौतियां और अवसर मिलेंगे। तकनीकी प्रगति, भौगोलिक राजनैतिक बदलावों और हाल ही महामारी के प्रभावों के चलते दुनिया की अर्थव्यवस्था तेज़ी से बदलाव के दौर से गुज़र रही है। ये बदलाव अनिश्चितताओं के साथ-साथ इनोवेशन और विकास की नई संभावनाएं भी लेकर आते हैं।’ वाईस चेयरमैन श्री श्रीवत्व जयपुरिया ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा।
दीक्षांत समारोह का समापन श्री श्रीवत्स जयपुरिया द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ हुआ, जिसके बाद राष्ट्र गान हुआ। सभी प्रतिभागियों, फैकल्टी एवं स्टाफ के सदस्यों, ग्रेजुएट छात्रों और उनके परिवारों के लिए दोपहर भोज का आयोजन भी हुआ।
जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के बारे में
जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, जयपुर, लखनऊ, इंदौर और नोएडा में परिसरों के साथ, प्रमुख प्रबंधन शिक्षा प्रदान करता है। उद्योग-संरेखित कार्यक्रमों, अनुभवी संकाय और व्यावहारिक शिक्षा पर ध्यान केंद्रित करके, संस्थान भविष्य के नेताओं का पोषण करता है। नैतिकता और निरंतर सुधार के प्रति प्रतिबद्धता के साथ, जयपुरिया छात्रों को गतिशील व्यावसायिक दुनिया में सफलता के लिए तैयार करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

खुद को युवाओं के प्रतीक कहने वाले नेता छात्रों के साथ कर रहे अन्याय : दिग्विजय सिंह

  भोपाल। भोपाल में गुरुवार को कांग्रेस नेताओं ने नर्सिंग घोटाले को लेकर भाजपा को घेरा। संवाददाताओं से बात करते हुए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमारे नेताओं ने विधानसभा में नर्सिंग घोटाले के मुद्दे को प्रभावशाली तरीके से उठाया और सरकार कोई जवाब नहीं दे पाई। उन्होंने कहा कि […]

प्रदेश को विकास के मानकों में शीर्ष में ले जाने के लिए सरकार है संकल्पित: उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल

  प्रदेश को विकास के मानकों में शीर्ष में ले जाने के लिए सरकार है संकल्पित: उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल “विजनरीज़ ऑफ़ मध्यप्रदेश” कार्यक्रम में हुए शामिल भोपाल : उप-मुख्यमंत्री श्री राजेंद्र शुक्ल ने कहा है कि मध्यप्रदेश को विकास के मानकों में शीर्ष पर ले जाने के लिए सरकार संकल्पित है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री […]