UP: योगी सरकार का बड़ा एक्शन, हलाल सर्टिफिकेशन वाले उत्पादों की बिक्री पर रोक

 

UNN# यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने राज्य में हलाल सर्टिफिकेशन वाले प्रोडक्ट के उत्पादन, वितरण पर रोक लगा दी है. सरकार की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि खाद्य उत्पादों के साथ-साथ डेयरी, चीनी, बेकरी जैसे उत्पादों पर हलाल सर्टिफिकेशन का उल्लेख किया जा रहा है जिस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जाती है. उत्तर प्रदेश में हलाल सर्टिफिकेशन के लेकर मचे घमासान के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को हलाल प्रमाणपत्र वाले उत्पादों, औषधियों, चिकित्सा और प्रशाधन से जुड़ी सामग्रियों की राज्य में बिक्री पर रोक लगा दी है. सरकार के आदेश के मुताबिक, हलाल सर्टिफिकेशन वाले प्रोडक्ट के निर्माण, स्टोरेज, वितरण और खरीद-फरोख्त की स्थिति में नियमानुसार कार्रवाई की बात कही गई है.दरअसल, यह मामला उस समय सामने आया जब लखनऊ के मोती झील के रहने वाले शैलेंद्र कुमार ने हजरतगंज थाने में एक तहरीर दी थी. इसमें उनकी ओर से कहा गया था कुछ कंपनियों द्वारा जैसे हलाल इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड चेन्नई, जमीयत उलेमा हिन्द हलाल ट्रस्ट दिल्ली, हलाल काउंसिल ऑफ इण्डिया मुंबई, जमीयत उलेमा महाराष्ट्र मुम्बई, आदि ने एक मजहब विषेश के ग्राहकों को मजहब के नाम से कुछ उत्पादों पर हलाल प्रमाणपत्र प्रदान कर उनकी ब्रिकी बढ़ाने की कोशिश की है. इनकी ओर से आर्थिक लाभ लेकर छल करते हुए अलग-अलग सामानों के उत्पादन के लिए हलाल प्रमाण पत्र जारी किए जा रहे हैं.शैलेंद्र ने अपनी शिकायत में दावा किया था कि पूरे प्रदेश भर में हलाल सर्टिफाइड सामान बाजार में देखे जा सकते हैं, जो की जन आस्था के साथ सरासर खिलवाड़ है. कंपनियों की ओर से निर्धारित मानकों का पालन भी नहीं किया जा रहा है. इस तहरीर के आधार पर पुलिस ने गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है और आगे की जांच में जुट गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड को मिला ‘बेस्ट स्टेट टूरिज्म बोर्ड’ का अवॉर्ड

  मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड को मिला ‘बेस्ट स्टेट टूरिज्म बोर्ड’ का अवॉर्ड नई दिल्ली में SATTE एग्जिबिशन के दौरान मिला सम्मान भोपाल : मध्यप्रदेश के पर्यटन गंतव्यों के प्रचार-प्रसार, नवाचार करने, पर्यटकों को अनुभव आधारित पर्य़टन प्रदान करने एवं पर्यावरण अनुकूल पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड (एमपीटीबी) को […]