पश्चिम रेलवे द्वारा गुजरात से तमिलनाडु के लिए बाजरे के नये यातायात का परिवहन

 

Mumbai: पश्चिम रेलवे की मल्टी डिसिप्लिनरी बिजनेस डेवलपमेंट इकाइयॉं माल यातायात के लिए लगातार नये रास्ते तलाश रही हैं। इसी क्रम में वडोदरा मंडल के बीडीयू ने हाल ही में गुजरात से तमिलनाडु तक बाजरे का परिवहन किया। यह उपलब्धि पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल के कुशल मार्गदर्शन में सम्भव हुई है, जिन्होंने हमेशा पश्चिम रेलवे के अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम को माल परिवहन के क्षेत्रों का विस्तार करने और इसके लिए नये रास्ते तलाशने हेतु प्रेरित और प्रोत्साहित किया है। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार गुजरात के नडियाद गुड्स शेड से तमिलनाडु के पोलाची तक बाजरे के नये यातायात का परिवहन किया गया। इस यातायात के माध्यम से उत्पन्न राजस्व 32 लाख रुपये रहा। 1 अप्रैल, 2021 से 6 जुलाई, 2021 तक, पश्चिम रेलवे ने अपनी विभिन्न पार्सल विशेष ट्रेनों के माध्यम से 78 हजार टन से अधिक वजन वाली वस्तुओं का परिवहन किया है, जिसमें कृषि उपज, दवाऍं, चिकित्सा उपकरण, मछली, दूध आदि शामिल हैं, जिनसे लगभग 26.54 करोड़ रु का राजस्व प्राप्त हुआ। पश्चिम रेलवे द्वारा 34 हजार टन से अधिक दूध के परिवहन के साथ 49 मिल्क स्पेशल ट्रेनें चलाई गईं और वैगनों का 100% उपयोग किया गया। इसी प्रकार, 60 कोविड -19 विशेष पार्सल गाड़ियों चलायी गयीं तथा 9700 टन आवश्यक वस्तुओं का परिवहन किया गया। इसके अतिरिक्त, 17,700 टन भार वाले 36 इंडेंटेड रेक भी शत-प्रतिशत उपयोग के साथ चलाये गये। किसानों को उनके उत्पादों के लिए नये बाजार उपलब्ध कराने और किफायती तथा तेज़ परिवहन के लिए इस अवधि में विभिन्न मंडलों से लगभग 16,000 टन भार के साथ 68 किसान रेलें भी चलाई गईं। 1 अप्रैल, 2021 से 6 जुलाई, 2021 तक 21.66 मिलियन टन आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए मालगाड़ियों के कुल 92,041 रेक चलाये गये। 21,287 फ्रेट ट्रेनों को अन्य जोनल रेलवे के साथ इंटरचेंज किया गया, जिसमें अलग-अलग इंटरचेंज पॉइंट पर 10,634 ट्रेनों को हैंडओवर किया गया और 10,653 ट्रेनों को टेकओवर किया गया। बिजनेस डेवलपमेंट इकाइयॉं (BDUs) रेलवे बोर्ड द्वारा शुरू की गई प्रोत्साहन योजनाओं के साथ मौजूदा और सम्भावित माल ग्राहकों के साथ लगातार सम्पर्क में हैं, ताकि ट्रेनों से उनके माल के त्वरित, विश्वसनीय, किफायती और थोक परिवहन के लिए उन्हें प्रोत्साहित कर सकें।
ठाकुर ने यह भी बताया कि 6 जुलाई, 2021 को कपडवंज में एक क्रू रेस्ट रूम का उद्घाटन किया गया है। नडियाद-मोडासा शाखा लाइन पर स्थित कपडवंज माल शेड, क्लिंकर के इनवर्ड यातायात और बॉक्साइट के आउटवर्ड यातायात को सम्भालता है। क्रू विश्राम कक्ष की अनुपलब्धता के कारण प्रत्येक रेक को सम्भालने के लिए क्रू के न्यूनतम दो सेटों की आवश्यकता थी। क्रू को पहले नडियाद से टैक्सी द्वारा ले जाया जाता था, जिससे डिटेन्शन का समय बढ़ जाता था। कपड़वंज के रनिंग रूम में 5 बेड की क्रू रेस्टिंग सुविधा है। कपडवंज में शुरू हुई इस सुविधा के साथ, अब चालक दल के एक सेट द्वारा रेक हैंडलिंग की जा सकती है। यह रेक टर्नअराउंड समय को तेज़ी से सक्षम बनायेगा और सिस्टम की क्षमता में सुधार करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

Indore : सिंधी साहित्य सभा के कार्यक्रम में लेखकों और कला धर्मियों को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार

  Indore : सिंधी साहित्य सभा के कार्यक्रम में लेखकों और कला धर्मियों को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार साहित्य, संगीत,लोक कला के साथ ही सोशल मीडिया श्रेणी में भी अवार्ड दिए गए मातृभाषा के लिए सम्मान आवश्यक:क्रिकेटर नरेंद्र हिरवानी सांसद श्री लालवानी और अन्य अतिथियों ने दिए पुरस्कार इंदौर : अखिल भारत सिंधी बोली साहित्य सभा,नई […]

IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान, 31 मई को केरल तक, मध्य प्रदेश में 16 से 21 जून तक एंट्री

  IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान, 31 मई को केरल तक, मध्य प्रदेश में 16 से 21 जून तक एंट्री नई दिल्‍ली: IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान मानसून की ताऱीख का ऐलान कर दिया है, उसका कहना है कि मानसून तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा है और वो इस बार […]