पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किया पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड

 

पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड ने लॉन्च किया पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड

(लार्ज एंड मिड कैप फंड – लार्ज कैप और मिड कैप दोनों तरह के शेयरों में निवेश करने वाली एक ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम।)

विशेषताएं: ⮚ पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड 24 जनवरी 2024 को सब्सक्रिप्शन के लिए खुल रहा है और 7 फरवरी 2024 को बंद होगा।
⮚ पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड को निफ्टी लार्जमिडकैप 250 इंडेक्स टीआरआई (कुल रिटर्न इंडेक्स) के खिलाफ बेंचमार्क किया जाएगा।
मुंबई : पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड ने आज अपना ओपन-एंडेड पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड को लॉन्च करने की घोषणा की है। इस स्कीम का उद्देश्य सक्रिय रूप से प्रबंधित पोर्टफोलियो से मुख्य रूप से लार्ज कैप और मिड कैप शेयरों की इक्विटी और इक्विटी से संबंधित सिक्‍योरिटीज में निवेश के जरिए लंबी अवधि में निवेशकों को हाई रिटर्न देकर उनकी दौलत में बढ़ोतरी करना है। पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड के सीआईओ विनय पहाड़िया ने इस लॉन्‍च पर कहा कि “हाई ग्रोथ और अच्छी क्वालिटी वाली लार्ज और मिड कैप कंपनियों में निवेश करने के मौके लगातार बने हुए हैं, जो भारत की ग्रोथ स्‍टोरी का लाभ उठा सकती हैं। ऐसी कंपनियां निवेशकों को भी लंबे समय तक कैपिटल-एफिशिएंट (अपने संचालन और ग्रोथ के लिए फंड खर्च करने में सक्षम) तरीके से तेज गति से कंपाउंडिंग का लाभ दे सकती हैं।”
पीजीआईएम इंडिया लार्ज और मिड कैप फंड लार्ज कैप और मिड कैप शेयर दोनों कैटेगरी में कम से कम 35 फीसदी निवेश करेंगे। पोर्टफोलियो का निर्माण टॉप-डाउन और बॉटम-अप पोर्टफोलियो निर्माण प्रक्रिया के संयोजन का उपयोग करके किया जाएगा, जिसमें प्रबंधन की गुणवत्ता सहित हर शेयर के फंडामेंटल (बुनियादी सिद्धांतों) पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। फंड मैनेजर का लक्ष्य अलग अलग सेक्टर में निवेश के साथ एक डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलियो बनाना होगा।
पीजीआईएम इंडिया म्यूचुअल फंड के सीईओ अजीत मेनन ने इस स्‍कीम के लॉन्च पर कहा कि “अच्छी क्वालिटी और हाई ग्रोथ वाली कंपनियों की प्रधानता वाली शैली का अनुसरण करने वाले पोर्टफोलियो ने हाल के दिनों में अपेक्षाकृत खराब प्रदर्शन किया है। यह निवेशकों को मौजूदा समय में इस शैली का पालन करते हुए लार्ज एंड मिड कैप फंड में यूनिट जमा करने का एक आकर्षक अवसर प्रदान करता है। यह फंड नए निवेशकों के साथ-साथ मौजूदा निवेशकों के लिए भी बेहतर विकल्प है, जो अपने मौजूदा पोर्टफोलियो में संतुलन बनाते हुए किसी भी तरह के जोखिम को कम करना चाहते हैं।”
फंड के इक्विटी हिस्से का प्रबंधन विनय पहाड़िया, आनंद पद्मनाभन अंजनेय और उत्सव मेहता द्वारा किया जाएगा, जबकि डेट हिस्से का प्रबंधन पुनीत पाल द्वारा किया जाएगा। ओजस्वी खीचा इस योजना के लिए विदेशी (ओवरसीज) निवेश का प्रबंधन करेंगी।
कम से कम कितना निवेश
● पीजीआईएम इंडिया लार्ज एंड मिड कैप फंड में प्रारंभिक खरीद (इनिशियल परचेज)/स्विच-इन कम से कम 5,000 रुपये से की जा सकती है और इसके बाद 1 रुपये के गुणक में कितना भी निवेश किया जा सकता है।
● अतिरिक्त खरीद (एडिशनल परचेज) – कम से कम 1000 रुपये से की जा सकती है और इसके बाद 1 रुपये के मल्‍टीपल में।
● एसआईपी के लिए कम से कम 5 इंस्टॉलमेंट जरूरी होगा, वहीं हर किस्त के लिए कम से कम 1,000 रुपये का निवेश जरूरी है, जिसके बाद 1 रुपये के मल्‍टीपल में कितनी भी राशि से एसआईपी की जा सकती है।
एग्जिट लोड
एकमुश्त/स्विच-इन/सिस्‍टमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान (एसआईपी) के माध्यम से यूनिट्स की हर खरीद के लिए
और सिस्टमैटिक ट्रांसफर प्लान (एसटीपी), एग्जिट लोड इस प्रकार होगा:
● यूनिट्स के आवंटन की तारीख से 90 दिनों के भीतर एग्जिट के लिए: 0.50%
● यूनिट्स के आवंटन की तारीख से 90 दिनों के बाद निकास के लिए: शून्य
यह फंड आवंटन की तारीख से 5 बिजनेस डे (व्यावसायिक दिनों) के भीतर निरंतर बिक्री और पुनर्खरीद के लिए फिर से खुलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

ICICI Lombard announces appointment of Priya Deshmukh as Head – Health Products, Operations & Services

  ICICI Lombard announces appointment of Priya Deshmukh as Head – Health Products, Operations & Services Mumbai – Health insurance is the fastest growing industry segment and it has been a key area of focus for ICICI Lombard General Insurance Limited. Over the past few quarters, ICICI Lombard has invested significantly in growing its distribution […]

Paytm – पेटीएम क्यूआर, साउंडबॉक्स और कार्ड मशीन 15 मार्च के बाद भी करते रहेंगे काम

  पेटीएम क्यूआर, साउंडबॉक्स और कार्ड मशीन 15 मार्च के बाद भी करते रहेंगे काम नई दिल्ली  :  भारत की दिग्गज पेमेंट और फाइनेंशियल सर्विस कंपनी पेटीएम ने घोषणा की है कि उसके मेड-इन-इंडिया क्यूआर कोड, साउंडबॉक्स और कार्ड मशीन 15 मार्च, 2024 के बाद भी सामान्य रूप से काम करते रहेंगे। यह आश्वासन भारतीय […]