दिल को सुकून देने वाली आवाज, दुनिया जिसकी दीवानी : तान्‍या देव गुप्‍ता

मुंबई @ सु‍मित वर्मा : ऐसी सुरीली आवाज जो दिल को छू जाए या जिसके गाने दिल को सुकून दें, संगीत के खजाने की अनोखी पहचान यानी तान्‍या देव गुप्‍ता, बॉलीवुड ही नहीं, बल्कि अब दुनिया भर में जाना पहचाना नाम है. अपने गायन और परफार्मेंस से भारतीय और अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर ख्‍याति प्राप्‍त कर चुकी तान्‍या देव गुप्‍ता बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं. वे कोरोना के प्रति लोगों और बच्‍चों को जागरूक करने में जुटी हुई हैं तो वहीं दुनिया के सबसे बड़े आयोजनों में शिरकत कर भारत का नाम ऊंचा कर चुकी हैं. तान्‍या ने खास इंटरव्‍यू में बताया कि मेरे पिता डॉ सत्‍य देव गुप्‍ता और मां अनीता गुप्‍ता के साथ बचपन में मैं भी पिता की तरह सफल डॉक्‍टर बनना चाहती थी. स्‍कूल में जब पहली बार किसी नाटक में हिस्‍सा लिया तो लगा कि एक संवेदनशील कलाकार मेरे भीतर छिपा हुआ है. तान्‍या बताती हैं कि गायन का क्षेत्र चुना और माता-पिता ने बखूबी साथ दिया. प्रो. बलदेव एस बाली ने मुझे बारीकियां सिखाईं. भारतीय क्‍लासिकल म्‍यूजिक एक बड़ी यात्रा के परिणाम गर्व से भरे हुए हैं. गोल्‍ड मैडल, पोस्‍ट ग्रेजुएशन इन इंडियन क्‍लासिकल म्‍यूजिक किराना घराना, नेशनल स्‍कालरशिप होल्‍डर, ऑल इंडिया रेडियो में ए हाई ग्रेड आर्टिस्‍ट और राष्‍ट्रीय व अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर कई अवार्ड्स और सबसे बड़ी बात है संतुष्टि. तान्‍या की बहुमुखी प्रतिभा और पूरे देश में सेना और सैन्‍य परिवारों के साथ किए गए कामों को देखते हुए पूर्व राष्‍ट्रपति डॉ कलाम ने भी अपने हाथों से सम्‍मानित किया.
तान्‍या कहती हैं कि तैयारी के बाद मैं मुंबई आ गई. मुंबई ने सिखाया कि ऑल राउंडर बेहतर होते हैं, तो अन्‍य शैलियों के साथ सीखना और अभ्‍यास शुरू किया. संगीत ने मुझे इस काबिल बनाया कि मैं तमिल और स्‍पेनिश में भी गा सकी. दुबई में आयोजित ‘बॉलीवुड इन दुबई’ में उनके गीतों ने ऐसा समां बांधा कि उन्‍हें दुबई के एक फिल्‍म संस्‍थान ने गेस्‍ट फैक्लिटी बना लिया और उन्‍होंने तीन सालों तक वहां संगीत की शिक्षा दी.
तान्‍या ने 2010 में चीन में आयोजित एशियाई खेलों के समापन समारोह में करीब 8 लाख दर्शकों के सामने लाइव परफार्म किया. यह अब तक का सबसे बड़ा ईवेंट हैं जहां तान्‍या ने 14 हजार डांसर्स के साथ परफार्म किया था. इसके साथ तान्‍या ने डुरंड फुटबॉल समापन समारोह, एशिया पैसिफिक एंटरप्रेन्योर अवार्ड्स, टाटा इक्विन एक्सीलेंस अवार्ड्स, जस्टिस मार्कंड काटजू का पोंगल फेस्ट, संगीत समारोह नाटक अकादमी, डीएलएफ मिपद लॉन्च, गूगल लक्सरी एक्सपो, नेवी बॉल – दिल्ली, नेवी बॉल – विजाग, न्यू ईयर वरुण नेवी, न्यू ईयर ईस्टर्न कमांड, ग्लोबल विलेज दुबई, संगीत प्रतिभा नाट्य अकादमी, एशियन बिजनेस अवार्ड्स दुबई, अलीघर महोत्सव, टाइम्स भारत के 75 वें एनिवर्सरी समारोह, एचटी यूथ नेक्सस, नंदीकर थिएटर, जश्न-ए-बचपन और एनएसडी में कार्यक्रमों में हिस्‍सा लिया है. तान्या कहतीं हैं कि “मैं चाहती हूं कि हर महिला अपने सपनों का पालन कर सके, बाधाओं के बावजूद वे अपने लक्ष्य का पीछा करना बंद नहीं करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

नज़दीकी सिनेमाघरों में 8 मार्च 2024 को महायोगी हाईवे 1, एक छवि है मानव एकता की

  नज़दीकी सिनेमाघरों में 8 मार्च 2024 को महायोगी हाईवे 1, एक छवि है मानव एकता की Mumbai: 8 मार्च 2024 को, यानि महाशिवरात्रि के दिन इस साल कुछ ऐसा होने जा रहा है जो किसी अलौकिक घटना से कम नहीं है। इस महाशिवरात्रि के दिन, इंसानों को मिलने जा रहा है स्वयं ईश्वर के […]