पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक द्वारा भावनगर कारखाने का वार्षिक निरीक्षण

पहली तस्वीर में पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल का स्‍वागत करते हुए स्काउट्स बैंड के सदस्‍य। दूसरी तस्वीर में पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक भावनगर कारखाना के दिव्यांग कर्मचारियों के साथ दिखाई दे रहे हैं। तीसरी तस्वीर में महाप्रबंधक रोलर बेयरिंग अनुभाग का निरीक्षण करते हुए। चौथी एवं पाँचवीं तस्‍वीर में महाप्रबंधक कारखाने के नये व्हील शॉप का उद्घाटन करते हुए।

Mumbai: पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक श्री आलोक कंसल ने 4 मार्च, 2021 को भावनगर कारखाना का वार्षिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्री कंसल ने कोच अनुरक्षण, यात्री सुविधाओं, संरक्षा, कर्मचारी सुविधाओं और इंफ्रास्‍ट्रक्‍चरल कार्य से संबंधित विभिन्न गतिविधियों और कारखाने द्वारा किये जा रहे अच्‍छे कार्यों का निरीक्षण किया। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक के साथ पश्चिम रेलवे के तीन प्रमुख विभागाध्‍यक्ष, भावनगर मंडल के मंडल रेल प्रबंधक और उनकी टीम थी। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ने भावनगर कारखाने के विभिन्‍न विभागों द्वारा किये जा रहे अच्‍छे कार्यों की सराहना की और भावनगर कारखाने को कुल 1.22 लाख रु. नकद पुरस्कारों की घोषणा की।
पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी श्री सुमित ठाकुर द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, प्रवेश द्वार पर स्काउट्स बैंड द्वारा श्री कंसल का स्वागत किया गया, जिसके बाद उन्होंने भावनगर कारखाने का लेआउट देखा। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ने एयर ब्रेक सेक्शन का निरीक्षण किया और स्वचालित बोगी माउंटेड ब्रेक सिलेंडर (BMBC) टेस्‍ट बेंच का उद्घाटन किया। श्री कंसल ने बोगी कंपोनेंट सेक्शन के दिव्यांग कर्मचारियों से भी बातचीत की तथा उनकी शिकायतों और सुझावों को सुना। उन्होंने उनके समर्पण एवं कार्य निष्‍ठा की सराहना की और उनके लिए अलग से नकद पुरस्कार की घोषणा की।
फोटो कैप्शन: पहली तस्‍वीर में महाप्रबंधक श्री कंसल बीएमबीसी के माइक्रो प्रोसेसर बेस टेस्ट बेंच का उद्घाटन करते हुए। दूसरे एवं तीसरे चित्रों में महाप्रबंधक नव विकसित कैंपिंग कोच का हरी झंडी दिखाकर उद्घाटन करते हुए।
श्री ठाकुर ने बताया कि पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ने रोलर बेयरिंग अनुभाग की भी जाँच की और किये जा रहे निरीक्षण और अनुरक्षण कार्यों की समीक्षा की। साथ ही विभिन्न प्रकार की बेयरिंग विफलताओं के बारे में देखा और चर्चा की। श्री कंसल ने एक पर्यावरण अनुकूल वाटर कूलर का उद्घाटन किया, जिसमें कोई भी कूलेंट का उपयोग नहीं होता और यह सौर ऊर्जा पर कार्य करता है। उन्होंने वेल्डिंग की गुणवत्‍ता और कोच बॉडी पर जंग हटाने की प्रणाली के अलावा कोच बॉडी मरम्मत शॉप में ट्रैक मेंटेनेंस स्टाफ के लिए पुराने कोचों को कैंपिंग कोच में बदलने की प्रक्रिया का भी निरीक्षण किया। इसके पश्‍चात उन्होंने कारखाने की मरम्मत क्षमता को दोगुना करने के लिए सेंट्रल ऑर्गनाइजेशन फॉर वर्चुअलाइजेशन ऑफ वर्कशॉप्स (COFMOW) द्वारा निर्मित नए व्हील, कोच बॉडी, बैटरी और अंतिम निरीक्षण कार्यशालाओं का उद्घाटन किया। उद्घाटित व्हील शॉप में नवीनतम तकनीक और उच्च उत्पादकता वाली मशीनें हैं। पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक ने इस वर्ष ओवरहॉल किये गये 621 वें ICF कोच और भावनगर कारखाने द्वारा परिवर्तित 21 वें कैम्पिंग कोच का भी निरीक्षण किया और हरी झंडी दिखाई। कारखाने से निकाले जा रहे 10 वें एलएचबी कोच का भी उनके द्वारा निरीक्षण किया गया। श्री कंसल ने मान्यता प्राप्त ट्रेड यूनियनों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड को मिला ‘बेस्ट स्टेट टूरिज्म बोर्ड’ का अवॉर्ड

  मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड को मिला ‘बेस्ट स्टेट टूरिज्म बोर्ड’ का अवॉर्ड नई दिल्ली में SATTE एग्जिबिशन के दौरान मिला सम्मान भोपाल : मध्यप्रदेश के पर्यटन गंतव्यों के प्रचार-प्रसार, नवाचार करने, पर्यटकों को अनुभव आधारित पर्य़टन प्रदान करने एवं पर्यावरण अनुकूल पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड (एमपीटीबी) को […]