आल इंडिया उलमा व मशाइख बोर्ड कार्यकारी समिति बैठक में पदाधिकारियों का चयन

 

हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी अगले 5 साल के लिए बोर्ड के अध्यक्ष चुने गए, अन्य पदाधिकारियों का भी हुआ चुनाव

नई दिल्ली: आल इंडिया उलमा व मशाइख बोर्ड कार्यकारी समिति की बैठक इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर, नई दिल्ली में हुई जिसमें बोर्ड के कार्यकारी समिति के सदस्यों ने भाग लिया। बैठक में लोकतांत्रिक तरीके से बोर्ड के पदाधिकारियों का चुनाव किया गया। दरगाह हज़रत निजामुद्दीन औलिया महबूबे इलाही के सज्जादानशीन सय्यद अहमद निजामी बोर्ड के सरपरस्त बनाऐ गए। हज़रत सय्यद मोहम्मद अशरफ किछौछवी सर्वसम्मति से अगले 5 साल के लिए बोर्ड के अध्यक्ष चुने गए, अन्य पदाधिकारियों में सय्यद मोहम्मद तनवीर हाशमी, सय्यद आले मुस्तफा पाशा क़ादरी, सय्यदी मियां और शाह अम्मार अहमद अहमदी नय्यर मियां उपदाध्यक्ष चुने गए। हाजी सय्यद सलमान चिश्ती महासचिव, सय्यद हसन जामी राष्ट्रीय सचिव, मोहम्मद हुसैन शेरानी को कार्यालय सचिव चुना गया, मोहम्मद अशरफ कोषाध्यक्ष, सय्यद आलमगीर अशरफ, सय्यद नसीरुद्दीन चिश्ती और सय्यद फरीद अहमद निजामी को कार्यकारी समिति के सदस्य के रूप में चुना गया। प्रोफेसर ख्वाजा मोहम्मद इकरामुद्दीन सलाहकार समिति के अध्यक्ष, क़ाज़ी मोहम्मद नोमान युथ विंग के उपाध्यक्ष चुने गए। उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष के रूप में श्री जरार हुसैन, दिल्ली एनसीआर के अध्यक्ष के रूप में सय्यद शादाब हुसैन रिजवी अशरफी, हरयाणा के अध्यक्ष के रूप में मौलाना मोहम्मद उमर और कर्नाटक के अध्यक्ष के रूप में सय्यद ताजुद्दीन कादरी चुने गए। सय्यद हम्माद अशरफ, अब्दुल मोईद अजहरी, सय्यद अफ़ज़ाल अहमद, मोहम्मद अज़ीम अशरफ और शमीम कुरैशी को यूथ विंग की जिम्मेदारी सौंपी गयी। वहीं गुलाम रसूल देहलवी, यूनुस मोहानी, मुफ्ती मोहम्मद हबीबुररहमान अल्वी मदारी और मौलाना मकबूल अहमद सालिक मिस्बाही को मीडिया की जिम्मेदारी दी गई। जमाअत अहले सुन्नत कर्नाटक और वर्ल्ड उर्दू एसोसिएशन के साथ इश्तराक किया गया। पदाधिकारियों ने बैठक के अन्य एजेंडे पर अपने विचार प्रस्तुत किए जो कार्यालय सचिव द्वारा दर्ज किए गए। कुछ सदस्यों ने अपनी बहुमूल्य टिप्पणियाँ लिखित रूप में प्रस्तुत की। बोर्ड अध्यक्ष ने अपने संबोधन में शिक्षा के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि बोर्ड को राजस्थान और यूपी में दो बड़े कॉलेज खोलने हैं। बोर्ड शिक्षा के प्रचार-प्रसार को प्राथमिकता देगा, यही वह साधन है जिससे मनुष्य उन्नति कर सकता है। इस दौरान मौलाना मोहम्मद हसन रजा, मौलाना आफताब आलम, काजी मोहम्मद नोमान अहमद, हाजी शकील अहमद, हाफिज मोहम्मद इमरान खान, मौलाना अजीम अशरफ, रमजान अली, अख्तर अली सिद्दीकी (सोनो वाहिद) हाफिज मोहम्मद मुबीन, शेख मोहम्मद सलीम चिश्ती सहित कई सदस्यों को ख्वाजा गरीब नवाज पुरस्कार से सम्मानित किया गया। बैठक में बोर्ड की लगभग 50 शाखाओं के ज़िम्मेदारों ने शिरकत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Releated

एन डी टी वी की नई सीरीज “आइकन्स ऑफ भारत” में देखिए साधारण भारतीयों की सफलता की अनसुनी कहानियां

Print 🖨 PDF 📄 eBook 📱  एन डी टी वी की नई सीरीज “आइकन्स ऑफ भारत” में देखिए साधारण भारतीयों की सफलता की अनसुनी कहानियां IndianMoney.com के अंग, फ्रीडम ऐप ने इस शो को लॉन्च करने के लिये एन डी टी वी के साथ साझेदारी की इस शो में देश भर के सूक्ष्मव-उद्यमियों की सफलता […]