मैं हीरो बोल रहा हूँ”, अभिनेता अर्सलन गोनी ने कहाँ, “एकता कपूर मेरे परफॉर्मेंस से बोहुत खुश हुई, और… ! जानिए पूरी कहानी।

 

Mumbai: अभिनेता अर्सलन गोनी जिन्होंने फ़िल्म जिया और जिया से अपना एक्टिंग डेब्यू किया था, लेकिन अर्सलन एक्टिंग से पहले फ़िल्म मेकिंग से लेकर डायरेक्शन, राइटिंग और प्रोडक्शन में काम कर चुके है। अर्सलन हालही में ऑल्ट बालाजी की सीरीज “मैं हीरो बोल रहा हूँ” से ओटीटी प्लेटफार्म पर डेब्यू किया है, जिसके बाद उन्हें बोहुत अच्छे प्रतिक्रिया मिल रही है। इस बारे में अर्सलन गोनी ने एकता कपूर के साथ काम करने का अपना अभुनाव शेयर किया है .अभिनेता अर्सलन गोनी, सीरीज “मैं हीरो बोल रहा हूँ” में खाफी दमदार भूमिका में नज़र आ रहे है, उन्होंने कहाँ है की, “एकता कपूर मेरे परफॉर्मेंस से खाफी खुश है, ये एक दिलचस्प किरदार था इससे पहले मैंने कभी इस तरह के रोल ने कभी नही किये है। पहेले तो में नेगेटिव किरदार को निभाने में इचाक रहा था लेकिन एकता कपूर लाला के रूप में मुझे लेकर निश्चित थी , और मैं बोहुत खुश हूँ जो भी क्रिएटिव आज़ादी मुझे इस नेगेटिव किरदार को निभाने के लिए मिली है शायद ही मुझे पोसिटिव किरदार को निभाने में नही मिलती। मुझे लाला के किरदार को और ज्यादा एक्स्प्लोर करने का मौका मिला जहाँ पर मैं अपना इमोशन और एक्सप्रेशन पूरी आजादी के साथ कैमरा के सामने बयान कर सकता था। ओटीटी प्लेटफॉर्म पर एक्टिंग में कोई फ़िल्टर और बनावटी इमोशन की कोई जगह नही हौ जो है वो असल और न्यायोचित है। अर्सलन गोनी एक कंटेंट ड्रिवेन एक्टर है और वो खुद ही अपने किरदार चुनते है जिसे उन्हें एक वर्सटाइल अभिनेता के रूप मे जाना जाता है। अर्सलन बोहुत ही जल्द एक प्रोजेक्ट में नज़र आने वाले है जिस की घोषणा बोहुत ही जल्द होगी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

शादी के बाद ‘त्रिदेव’ सोनम खान ने बना ली थी फिल्मों से दूरी, अब हो रहा पछतावा

  Mumbai: त्रिदेव, विजय और अजूबा जैसी फिल्म में नजर आ चुकी 80-90 दशक की मशहूर एक्ट्रेस सोनम खान अब फिल्मी दुनिया से दूर हैं। एक्ट्रेस ने 1991 में राजीव राय के साथ शादी करने के बाद ही बॉलीवुड को अलविदा कह दिया था। हालांकि, उन्हें अपने इस फैसले पर अब मलाल है और हाल […]

Kalki 2898 AD : कल्कि 2898 एडी. में कृष्ण का चेहरा छिपाए रखने पर नाग अश्विन: “हमेशा से ही उन्हें एक छाया और निराकार रखने का विचार था

  कल्कि 2898 एडी. में कृष्ण का चेहरा छिपाए रखने पर नाग अश्विन: “हमेशा से ही उन्हें एक छाया और निराकार रखने का विचार था Mumbai: साल की सबसे बड़ी फिल्म कल्कि 2898 एडी ने न केवल उम्मीदों को पूरा किया है, बल्कि उन्हें पार करते हुए वैश्विक ब्लॉकबस्टर बन गई है। हाल ही में […]