भारत-यूएई में करार : सरल व सुविधाजनक होगा छात्रों और फैकल्टी का आवागमन

 

नई दिल्ली। भारत और यूएई के बीच छात्रों के आदान-प्रदान कार्यक्रमों को सुगम बनाने पर चर्चा की जा रही है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के शिक्षा मंत्री डॉ. अहमद अल फलासी ने शैक्षणि‍क सहयोग को मजबूत करने के लिए एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इससे छात्रों और फैकल्टी के आवागमन में सुविधा होगी। इसके अलावा यह कदम दोहरी व्यवस्था, संयुक्त डिग्री और दोहरी डिग्री कार्यक्रमों की पेशकश के लिए दोनों देशों के उच्च शिक्षा संस्थानों के बीच अकादमिक सहयोग की सुविधा भी प्रदान करेगा। शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, संयुक्त अरब अमीरात के तीन दिवसीय दौरे पर हैं। यूएई के शिक्षा मंत्री के साथ बैठक के दौरान प्रधान ने कहा कि यूएई एक वैश्विक आर्थिक हॉटस्पॉट है और भारत एक वैश्विक प्रतिभा हॉटस्पॉट है। इस लिहाज से दोनों देशों को अपने सभ्यतागत जुड़ावों को मजबूत करने के लिए एक ज्ञान सेतु निर्मित करने के लिए साथ मिलकर काम करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

Indore : सिंधी साहित्य सभा के कार्यक्रम में लेखकों और कला धर्मियों को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार

  Indore : सिंधी साहित्य सभा के कार्यक्रम में लेखकों और कला धर्मियों को मिले राष्ट्रीय पुरस्कार साहित्य, संगीत,लोक कला के साथ ही सोशल मीडिया श्रेणी में भी अवार्ड दिए गए मातृभाषा के लिए सम्मान आवश्यक:क्रिकेटर नरेंद्र हिरवानी सांसद श्री लालवानी और अन्य अतिथियों ने दिए पुरस्कार इंदौर : अखिल भारत सिंधी बोली साहित्य सभा,नई […]

IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान, 31 मई को केरल तक, मध्य प्रदेश में 16 से 21 जून तक एंट्री

  IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान, 31 मई को केरल तक, मध्य प्रदेश में 16 से 21 जून तक एंट्री नई दिल्‍ली: IMD ने जारी किया मानसून का पूर्वानुमान मानसून की ताऱीख का ऐलान कर दिया है, उसका कहना है कि मानसून तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहा है और वो इस बार […]